OTP Ka Full Form और ओ पी टी (OTP) का मतलब क्या होता है?

आपका फ्रॉड कॉल से कभी न कभी तो पाला पड़ा ही होगा, फ्रॉड ज्यादा तर लोगो को लालच देते है या डराते है, आपने यह नहीं किया तो आपकी यह सर्विस बंद हो जाएगी या आपका बहुत बड़ा नुक्सान हो जायेगा। और उसके बाद आपके फ़ोन में आये OTP के बारे में पूछते है, कुछ लोगो को OTP की जानकारी नहीं होती जैसे OTP Ka Full Form और ओ पी टी (OTP) का मतलब क्या होता है और वह उन्हें OTP बता देते है। इसके बाद उनके अकाउंट से पैसे कटते है तो फिर वह सोचते है की काश मुझे इसके बारे में पहले पता होता तो में कभी भी उसे OTP नहीं बताता।

अगर आपको भी नहीं पता की OTP Ka Full Form और ओ पी टी (OTP) का मतलब क्या होता है, तो इस आर्टकिले के माध्यम से जान सकते है।

OTP Ka Full Form और ओ पी टी (OTP) का मतलब क्या होता है

OTP Ka Full Form और ओ पी टी (OTP) का मतलब क्या होता है

OTP का Full Form “One Time Password” होता है।

OTP क्या है – ओ पी टी का मतलब क्या होता है ?

OTP 6-Digit का One Time Password होता है, यह ऐसा पासवर्ड होता है जिसका इस्तेमाल सिर्फ एक बार ही किया जा सकता है। इसका उपयोग Online Transactions और बैंक या अन्य अकाउंट को अपडेट या पासवर्ड चेंज करते वक़्त वास्तविक यूजर को प्रमाणित करने के लिए किया जाता है।

जब भी हम कोई ऑनलाइन पैसों का लेन देन करते है तो हमारे बैंक खाते में रजिस्टर्ड ईमेल या फ़ोन में एक मैसेज आता है, जिसमें कुछ नंबर लिखे होते है उन नंबर को ओ पी टी कहा जाता है, उन नंबर को जब हम उस ट्रांसक्शन्स में पूछे गए otp के स्थान में डालते है, तो हमारी Transactions पूरी हो जाती है।

यह भी पढ़े:- Password ko hindi me kya kehte hain

OTP का यूज़ कहाँ कहाँ किया जाता है?

OTP का यूज़ सबसे ज्यादा पैसों का ऑनलाइन लेन देन करने के लिए होता है, बैंक और e-commerce वेबसाइट जैसे Amazon, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील, eBay इत्यादि और Digital Wallet की सेवा देने बाली Online Private Companies जैसे Paytm, Freecharge, mobikwik, oxigen wallet इत्यादि ये सभी भी अपने customers के account को safe रखने के लिए OTP का इस्तेमाल करते हैं।

Google ने भी अपने user के account को और भी सुरक्षित करने के लिए OTP का उपयोग करना शुरू कर दिया है। जिसे आप अपने गूगल अकाउंट के सिक्योरिटी सेक्शन में जा के तवो स्टेप वेरीफिकेशन को ओन करके OTP के लिए अपने मोबाइल नंबर को ऐड कर कर सकते है।

इसको activate करने के बाद कोई भी दूसरा व्यक्ति आपके account में न तो लॉगिन कर पायेगा और न ही फॉरगॉट पासवर्ड के जरिये पासवर्ड चेंज कर पायेगा। जब भी ऐसा करने की कोशिश करेगा तो गूगल यूजर को प्रमाणित करने के लिए OTP पूछेगा जो की आपके मोबाइल में आएगा उसके पास OTP न होने के कारन वह आपके अकाउंट के कुछ भी नहीं कर सकता है।

OTP आपके पास आने से आपको यह मालूम हो जायेगा की कोई आपके अकाउंट में लॉगिन करने की कोशिश कर रहा है और आप सतर्क हो जायेंगे।

One Time Password से क्या फायेदा होता है?

इससे हमारे सभी Account सुरक्षित रहते है चाहे वह बैंक अकाउंट हो गूगल अकाउंट हो या फिर कोई सोशल मीडिया अकाउंट। जब भी हम इनमे कुछ changes करते है तो हमें एक OTP आता है जिसे यूज़ करके हम हम अपना काम कर लेते है, काम चाहे ऑनलाइन पैसे लेने या देने का हो या account का पासवर्ड चेंज करने का हो।

इसकी सबसे अच्छी बात यह होती है इसका इस्तेमाल केबल एक बार ही कर सकते है , एक बार यूज़ होने के बाद इसका इस्तेमाल दोवारा नहीं किया जा सकता, One Time Password समय सिमा के साथ प्राप्त होता है, OTP को आपको समय सिमा के ख़तम होने से पहले यूज़ करना है, समय सिमा ख़तम होने के बाद OTP किसी काम का नहीं रहता। जिससे हमारी account की security और बड़ जाती है।

OTP के क्या फायदें होते है ?

  • Security को बढ़ाने के लिए – otp का सबसे पहला उद्देश्य ही यूजर की सिक्योरिटी को बढ़ाना होता है। otp के कारन आपके अकाउंट में एक सिक्योरिटी एक्स्ट्रा लेयर लग जाती है क्यूंकि जब भी कोई आपके आकउंट में changes करना चाहेगा या कोई unauthorised transaction करना चाहेगा तो वह नहीं कर पायेगा क्यूंकि उसक पास OTP नहीं होगा।
  • यूजर का प्रमाणिकरण – इसके द्वारा वास्तविक यूजर प्रमाणित करना आसान हो जाता है , जब इसकी आबशयकता पड़ती है तो यूजर के मोबाइल या ईमेल में otp भेजा जाता है और यह otp केबल यूजर के रजिस्टर ईमेल एड्रेस या फ़ोन नंबर पर आता है। otp के वेलिडेशन के बात ही यूजर के द्वारा लिए गए एक्शन को वैलिड मन जाता है।
  • तेज – OTP से बास्तविक यूजर की पहचान सैकण्डों में साबित हो जाती हैं. क्यूंकि OTP मेसेज recieve होने सेकंड से कम समय लगता है।

OTP को प्रयोग करते हुए क्या साभधानी बरतें

  • OTP किसी को ना बतायेँ – एक OTP आपकी पर्सनल इनफार्मेशन होती है जिसे किसी दूसरे व्यक्ति को नहीं बताना चाहिए। अकसर फ्रॉड कॉल बाले लोगो से यह कर otp पूछते है की वह बैंक से बोल रहे है और बहुत से लोग उन्हें अपना otp बता भी देते, आपको हमेशा यह बात याद रखनी है की बैंक बाले कभी भी आपसे OTP के बारे में नहीं पूछते है, इसलिए आपको किसी को भी otp नहीं बताना है।
  • Unwanted App – आपको फालतू के app को यूज़ करने से बचाना है। बहुत से app ऐसे होते है जो आपके फ़ोन में आये OTP को पढ़ सकते है, तो आपको ऐसे app से बचाना है।
  • फ़ोन चोरी होने पर तुरंत बदले अपना रजिस्टर नंबर – फ़ोन चोरी होने पर आपको अपना रजिस्टर मोबाइल नंबर जितनी जल्दी हो सके बदल देना चाहिए। ताकि वह चोर OTP का इस्तेमाल करके आपके खाते से कोई Transactions न कर पाए।
  • अनजाने ईमेल में दिए गए लिंक क्लिक न करे – OTP फ़ोन Number में आने के साथ साथ ईमेल भी आता है अगर आपने ईमेल को कनेक्ट कर रखा है तो अगर ऐसा है तो आपको अनजान ईमेल में लिंक पर कभी भी क्लिक नहीं करना चाहिए। हो सकता है वह आपके अकाउंट को हैक करने लिए दिया गया लिंक हो। पहले क्रोसे चेक कर ले उसके बाद ही ऐसे किसी लिंक पर क्लिक करे।

Conclusion: तो आज हमने इस आर्टिकल में OTP Ka Full Form और ओ पी टी (OTP) का मतलब क्या होता है? otp के उपयोग, फायदे और OTP को प्रयोग करते हुए क्या साभधानी बरतें यह सब सीखा उम्मीद है आपको यह समझ आ चूका होगा अगर आप और कुछ जानना चाहते है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here