NVR Full Form | NVR kya hai or NVR kaise kaam karta hai

NVR Full Form | NVR kya hai or NVR kaise kaam karta hai. आज के युग में हम अगर बात करे इलेक्ट्रॉनिक सिक्योरिटी की तो हमारे मन में एक ही ख्याल सबसे पहले आता है, वह है cctv कैमरा system का क्यूंकि इससे हम अपने काम के क्षेत्र, घर, ऑफिस आदि में बड़ी ही आसानी से नजर रख सकते है।

अगर आप भी cctv camera system लगवाना चाहते है तो ऐसे में आप कोशिश करेंगे की आप अच्छे से अच्छा सिस्टम इनस्टॉल करवाएँ। अगर आप किसी टेक्निकल पर्सन से इसकी सलाह लोगे तो वह आपको 99% NVR Based CCTV सिस्टम लगाने की सलाह देगा। ऐसे में हर कोई यह जानना चाहेगा की NVR Full Form | NVR kya hai or NVR kaise kaam karta hai, आगे आर्टिकल में मैं आपको NVR के बारे में डिटेल्स में बताने वाला हूँ।

NVR Full Form । NVR ka full form क्या है:

NVR Full Form: Network Video Recorder होता है। हमें अधिकतम बस्तुयों के बारें में उनके नाम और Full Form आदि से बहुत कुछ मालूम हो जाता है ठीक इसी प्रकार से जैसे हम NVR: Network Video Recorder को शब्द को पड़ते है तो हम डिवाइस के बारे में यह जान लेते है यह एक तरह का वीडियो रिकॉर्डर है, NVR के बारे में अधिक जानने के लिए हमें इसकी Definition को जानना होगा की आखिर NVR kya hota hai

What is NVR in Hindi। NVR kya hota hai:

NVR का मतलब Network Video Recorder होता है। NVR एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो IP कैमरा से आने वाले Digital Video or Audio Data को स्टोरेज में स्टोर करता है, और मॉनिटर के माध्यम से हमें लाइव CCTV फुटेज दिखता है।

nvr full form

एनवीआर के साथ IP CAMERAS लगाए जाते है जो की Eather Net केबल (LAN cable ) के द्वारा कनेक्ट होते है, और IP CAMERAS को हम Network cameras भी कहते है, जो डिवाइस Network Cameras (IP CAMERAS) से आने वाले Digital Video or Audio Data को स्टोरेज में स्टोर करता है आसान भाषा में हम उसे NVR या Network Video Recorder कहते है।

NVR kaise kaam karta hai:

जब आप कैमरा और NVR को एक नेटवर्क में इनस्टॉल करते है तो कुछ NVR or camera अगर same company का है तो वह automatically कनेक्ट हो जाते है और अगर कैमरा और NVR same कंपनी के नहीं है तो आपको NVR or IP Camera का IP same rang में रखना है, उसके बाद अपने NVR में उन कमेरो को आप Manually connect कर सकते है।

कैमरा लाइव होने पर NVR कैमरा से आने बाले डाटा को स्टोरेज में स्टोर करता है और मॉनिटर के माध्यम से हमे लाइव Footage दिखाता है, याँह पे DVR की तरह NVR को डाटा प्रॉसेस नहीं करना पड़ता है क्यूंकि IP camera Audio और वीडियो डाटा को Digital रूप में भेजते है NVR सिर्फ उस डाटा को compress करके स्टोर करता है।

NVR के प्रकार। Types of NVR

1. NVR with Inbuilt PoE Switch। इनबिल्ट PoE Switch के साथ एनवीआर : Inbuilt PoE Switch NVR में आपको कैमरा कनेक्ट करने के लिए PoE ports NVR में ही मिलते है, अगर वर्क स्टेशन में एक्स्ट्रा पावर पोर्ट और एक्स्ट्रा डिवाइस रखने की जगह नहीं है तो Inbuilt PoE Switch NVR आपके लिए एक बेहतरीन ऑप्शन हो सकता है।

NVR Full Form | NVR kya hai or NVR kaise kaam karta hai

  1. NVR with not Inbuilt PoE Switch : इस NVR में आपको कैमरा कनेक्ट करने के लिए केबल NVR को कैमरा बाले नेटवर्क के साथ जोड़ना होगा या फिर आप यूँ कह सकते है की इसके लिए आपको PoE स्विच अलग से लगाना पड़ेगा। इसमें cameras डायरेक्टली NVR से न कनेक्ट होकर PoE स्विच के कनेक्ट होते है और PoE switch NVR के साथ LAN cable के द्वारा कनेक्ट होता है।

एनवीआर सिक्योरिटी सिस्टम इनस्टॉल करवाने के लाभ और नुक्सान:

इसमें कोई दोराय नहीं है की NVR सिस्टम एक बहुत उत्तम क्वालिटी का सिक्योरिटी सिस्टम है। लेकिन किसी ने बहुत सही कहा है की कोई भी चीज परफेक्ट नहीं होती, तो NVR में भी आपको कुछ खामियां देखने को मिलती है। NVR के Pros और Cons क्या आगे हम इसी की बात करेंगे।

NVR Security system के लाभ:

  1.  Easy to Install – NVR सिस्टम लगाने में आसानी: NVR सिस्टम लगाने में आसानी होती है, इसमें केबल एक CAT-6 का यूज़ होता है और wire के दोने साइड RJ45 connector लगाए जाते है, इसी कनेक्टर से आपका वीडियो और पावर का ट्रांसमिशन हो जाता है, यानी आपको अब वीडियो और पावर के लिए अलग-अलग Wire या कनेक्टर नहीं बनाने पड़ेंगे।
  2.  NVR सिस्टम दिखने में अच्छा लगता है: NVR सिक्योरिटी सिस्टम में कबले एक ही Wire यानी cat -6 का यूज़ होना, कैमरा पावर सप्लाई की जरुरत नहीं, यानी NVR के साइड में सिर्फ NVR या NVR और PoE switch होने की बजह से वह जगह काफी clean और अच्छी लगती है, यही अगर आप DVR सिस्टम लगाते तो आपको कैमरा पावर के लिए एक्स्ट्रा cable और camera के लिए Power Supply लगानी पड़ती और DVR की जगह में wire और power supply की बजह से वह दिखने में बहुत बुरा लगता।
  3. अच्छी वीडियो और इमेज क्वालिटी: NVR Based security system में आपको video और Image quality अच्छी देखने को मिलेगी क्योंकि इसमें डिजिटल कैमरा लगे होते है जो की CCTV फुटेज को खुद प्रोसेस करते है और NVR उसे और एनहान्स करता है, लेकिन DVR में analog signal को DVR digital कन्वर्ट करता है तो वहां पे वीडियो क्वालिटी लोस्स होने के चांस होता है लेकिन NVR में ऐसा नहीं होता है। इसमें IP कैमरा इंस्टॉल होते है जो की Megapixel में आते है जिनकी Resolution 4K तक होती है, हालांकि यह cameras और NVR पर Depend करता है वह किसी Resolution को सपोर्ट करता है, लेकिन एनालॉग कैमरा से कंही बेहतर क्वालिटी प्रोवाइड करता है NVR Camera system।
  4. नेटवर्क के साथ कनेक्ट करना आसान: NVR camera system को नेटवर्क में जोड़ना काफी आसान होता है, आप एक ही कैमरा सिस्टम को मल्टीपल जगह पर एक्सेस कर सकते है, याँह तक की अगर आप किसी सिंगल कैमरा को एक्सेस करना चाहते है, तो वह भी कर सकते है लेकिन इसके लिए आपको IP camera को लगाने के लिए PoE switch का इस्तेमाल करना पड़ेगा।
  5. Advanced security Features: कई आईपी कैमरों में Advanced security Features हैं, जैसे कि facial recognition,, Motion detection और night vision capabilities। इस तकनीक से enterprise व्यवसाय के कई स्तरों को लाभ मिल सकता है। जब क्लाउड स्टोरेज के साथ जोड़ा जाता है, तो unauthorized access को रोकने के लिए एनवीआर में सुरक्षा प्रणालियों को पासवर्ड सुरक्षा, two-step verification और एन्क्रिप्शन के साथ भी कॉन्फ़िगर किया जा सकता है, नेटवर्क में रहते हुए कोई अन्य इसे एक्सेस न कर पाए।
  6. NVR सिस्टम लम्बे समय तक चलता है: NVR सिस्टम DVR system के मुकाबले अधिक समय तक अच्छी क्वालिटी के साथ काम करते है, और यह जल्दी आउट डेटेड नहीं होते।
  7. Scalable Storage: तथ्य यह है कि एनवीआर सिस्टम cloud compatible हैं इसका मतलब है कि अतिरिक्त सर्वरों को जोड़कर storage स्केलेबल है। NVR में आप DVR के मुकाबले अधिक स्टोरेज का इस्तेमाल कर सकते है, क्यूंकि NVR में DVR से अधिक स्टोरेज लिमिट होती है।
  8. कम या कोई वीडियो Noise नहीं: आपने अक्सर देखा होगा DVR सिस्टम के वीडियो फुटेज में उसमे कुछ लाइन – लाइन, डॉट्स , ब्लर, शैडो आदि आती है, जिसके कारन CCTV फुटेज किसी काम का नहीं रहा जाता ऐसा दवर सिस्टम इनस्टॉल करने कुछ टाइम बाद होता है, इसके ज़ीमेबार बहुत से कारन होते है, लेकिन आपको यह सुन कर काफी खुशी होगी NVR सिक्योरिटी सिस्टम ये सब प्रोब्लेम्स नहीं आती है।

NVR Security system के हानि:

  1. मंहगा सिक्योरिटी सिस्टम: NVR Security system को मंहगा सिक्योरिटी सिस्टम कहना कोई गलत बात नहीं होगा हालाँकि अभी मार्किट में कम बजट के IP camera और NVR आ गए है लेकिन फिर भी DVR के मुकाबले NVR security system Costly यानी महंगा पड़ता है। वारंटी ख़तम होने के बाद कोई पार्ट्स ख़राब हो जाता है तो वह रेप्लस करना काफी महंगा पड़ जाता है।
  2. सिस्टम लगाने के लिए टेक्निकल ज्ञान होना जरुरी: इस सिस्टम को लगाने के लिए आपको टेक्निकल नॉलेज होना जरुरी है क्यूंकि इसमें आपको RJ45 कनेक्टर, I/O और IP आदि कॉन्फ़िगर करना पड़ेगा और बहुत बार आपको इसके लिए लैपटॉप या फिर किसी कंप्यूटर की आवशयकता पड़ सकती है तो ये सब सही से करने लिए आपको इसका ज्ञान होना जरुरी है।
  3. NVR सिस्टम का उपयोग करना थोड़ा मुश्किल: NVR सिस्टम यूज़ करने में थोड़ा मुश्किल होता है, क्यूंकि इसका यूजर इंटरफ़ेस थोड़ा ट्रिकी होता है, इसके लिए आपको Technician से इसकी क्विक ट्रेनिंग लेनी पड़ेगी और टाइम के साथ आप इसके बारे में अच्छे से सिख जाओगे।

“NVR Full Form | NVR kya hai or NVR kaise kaam karta hai”

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here