Hatchback और Sedan में क्या अंतर होता है, इनमे से कोन सी है सबसे बेहतर।

एक कार का महत्ब अलग-अलग लोगों के लिए अलग-अलग हो सकता है। किसी का वह एक ड्रीम हो सकता है, किसी के लिए जरुरत तो किसी के लिए यह status symbolका काम करती है। हालांकि, कार खरीदते समय, एक कार खरीदार के पास कई भ्रम हो सकते हैं अगर आप अपनी पहली कार खरीद रहे हो तो। ऐसी ही एक कार के प्रकार सेडान और हैचबैक के बीच है, तो Hatchback और Sedan में क्या अंतर होता है यह समझाना बहुत आवश्यक है ताकि आप सही फैसला कर सको।

आइए Hatchback और Sedan में क्या अंतर होता है, यह समझते हैं।

Hatchback kya hai – हैचबैक क्या है?

हैचबैक एक छोटे आकार की कार है, जिसका पीछे का हिंसा(Rear side) अंडा आकर का होता है। यह कार दो पोरशन में divided होती है सबसे पहले बोनट जिसमे इंजन होता है दूसरा पैसंजर पोरशन होता है इसमें सामान रखने के लिए अलग से जगह नहीं होती है। HATCHBACK KYA HAI समान रखने के लिए आपको रियर सीट के पीछे बूट स्पेस दिया गया होता है जो आवश्यकता पड़ने पर रियर सीट को फोल्ड करने के बाद काफी बड़ा हो जाता है।

Example: Alto 800 , Kwid , swift , i10 or i20 इत्याद। HATCHBACK CARS

हैचबैक के फायदे और नुकसान:

हैचबैक के लाभ:
  • कम कीमत: हैचबैक एक छोटी कार होती है जिससे इसकी कीमत पर असर पड़ता है। कार की दुनिया में इसकी कीमत सबसे कम होती है। एक हैचबैक की शुरूआती कीमत आपको 3 लाख ex showroom price में मिल जाएगी।
  • अधिक Resale वैल्यू: दूसरी कारों के मुकाबले एक हैचबैक कार की रिसले अधिक देखि जाती है। रिसले वैल्यू कंपनी और कार के ऊपर भी depend करती है।
  • easy to drive: हैचबैक कार ड्राइव करना थोड़ा आसान होता है, क्यूंकि यह छोटे साइज में होती है और इसकी इंजन पावर भी बहुत अधिक नहीं होती जिसके कारन कार सीखना हैचबैक में आसान हो जाता है इसलिए सभी car learning स्कूल भी हैचबैक कार का इस्तेमाल करता है।
  • बहुत अच्छी fuel efficiency: हैचबैक कार छोटी होने के कारन इसका वेट अधिक नहीं होता और इंजन भी इसके हिसाभ से कम पावर का लगता है जिसके फलस्वरूप इसमें सभी कारों से अधिक अच्छी fuel efficiency देखने को मिलती है।
हैचबैक के हानि:
  • सेडान की तुलना में हैचबैक में आमतौर पर इंजन की शक्ति की कमी होती है, और सेडान के मुकाबले आपको कम्फर्टेबल भी कम देखने को मिलेगी।

सेडान क्या है?

एक सेडान एक पारंपरिक यात्री कार है , यह कार तीन हिसो में divided होती है, इंजन, पैसंजर, और बूट यानी जिसमें बूट यात्री केबिन से अलग होता है। SEDAN CAR ये कारें चार मीटर से लंबी होती हैं और इनमें 4-5 यात्री बैठ सकते हैं।

Example: dzire , amaze , verna इत्याद।SEDAN CARS

Read also:

सेडान के फायदे और नुकसान:

सेडान के लाभ:
  • अधिक इंजन पावर होती है: सेडान कारों में हैचबैक कारों के मुकाबले अधिक पावर का इंजन देखने को मिलता है।
    कम्फर्टेबल: सेडान में लेग रूम अधिक मिलता है जो सभी प्रकार के लोगों के लिए आराम दायक सुभिदा प्रदान करती है। रियर सीट सेडान कार में अधिक कम्फर्टेबल होती है।
  • सेडान कम शोर करते हैं: सेडान कार का इंजन काफी रेफिने होता है और इनके कैबिने भी बहुत अच्छे से बनाये गए होते है जिससे सेडान कारें कम शोर करते हैं।
सेडान के नुकसान:
  • हैचबैक से अधिक कीमत: सेडान कारें की कीमत चबैक कारों से अध्क होती है और सेडान को मेन्टेन करना भी कॉस्टली होता है।
  • कम fuel-efficient: सेडान कारे लम्बी बड़ी हो है और इनमे इंजन भी हैचबैक से अधिक पावर का होता है जिससे इसमें आपको यह कार कम fuel-efficient देखने को मिलेगी।
  • Difficult to park: सेडान कारे लम्बी और बड़ी होती है जिसके कारन इन्हे पार्क करना और और संकरे रास्तों में चलना मुश्किल होता है।

क्यों एक हैचबैक खरीदने पर विचार करें?

  • व्यावहारिक: वाहन के कॉम्पैक्ट आयामों के कारण हैचबैक निश्चित रूप से अधिक व्यावहारिक हैं। हैचबैक आमतौर पर व्यस्त ट्रैफिक को संभालने में आसान होते हैं। जिन शहरों में पार्किंग स्थलों की कमी है, वहां एक हैचबैक सबसे अच्छा विकल्प हो सकता है।
  • सीखने में आसान: चूंकि हैचबैक में एक छोटा बोनट होता है, इसलिए ड्राइवरों के पास बोनट के अंतिम बिंदु का एक आसान रूप हो सकता है जो ललाट टकराव की संभावना को कम करता है। हैचबैक पार्किंग के लिए भी आसान हो सकता है।
  • बेहतर ईंधन क्षमता: सेडान की तुलना में, हैचबैक बेहतर ईंधन दक्षता प्रदान करते हैं क्योंकि वे वजन में हल्के होते हैं।
  • बड़ा बूट स्पेस: सेडान को आमतौर पर बड़ा बूट स्पेस कहा जाता है, लेकिन इसकी कुछ सीमाएं हैं। सेडान में जूतों का भंडारण स्थान सीमित है क्योंकि बड़े या अचानक आकार के सामान को समायोजित नहीं किया जा सकता है। दूसरी ओर, एक हैच का पीछे का गेट काफी चौड़ा है ताकि आसानी से सामान की मात्रा को अंदर रखा जा सके। इसके अलावा, अतिरिक्त भंडारण स्थान को पीछे की सीटों को मोड़कर पहुँचा जा सकता है। एक अच्छा उदाहरण होंडा जैज़ हो सकता है जो सीटों के तह को एक बड़ा भंडारण स्थान बनाने की अनुमति देता है।
  • पुनर्विक्रय मूल्य: एक नई कार खरीदते समय, कई कार खरीदार एक कार के पुनर्विक्रय मूल्य को भी देखते हैं। आमतौर पर, दो-बॉक्स यात्री कारों में सेडान की तुलना में बेहतर पुनर्विक्रय मूल्य होता है। भारत में सेडान और एसयूवी की तुलना में हैचबैक की अधिक मांग है।
  • पयुशहर के उपयोग के लिए उक्त: एक हैचबैक शहरी परिवार के लिए आवागमन का एक आदर्श तरीका हो सकता है। बेहतर ईंधन दक्षता, कम रखरखाव लागत और बड़ा स्थान कार को दैनिक उपयोग के लिए अधिक उपयोगकर्ता के अनुकूल बनाता है। भीड़-भाड़ वाली सड़कों के माध्यम से छोटी अभी तक विशाल कार आसानी से जा सकती है और वाहन में एक महत्वपूर्ण मात्रा में सामान भी ले जाया जा सकता है।
  • कम खर्चीली: हैचबैक में आमतौर पर सेडान कारों की तुलना में कम लागत होती है। यही कारण है कि भारत और ब्राजील जैसे विकासशील देशों में हैचबैक की काफी मांग है। इसके अलावा, हैचबैक का पुनर्विक्रय मूल्य सेडान से बेहतर है।

सेडान कार और हैचबैक के बीच का चुनाव इस बात पर भी निर्भर करता है कि आप किस तरह के अनुभव की तलाश में हैं। आपकी औसत दूरी की यात्रा की जाती है, भंडारण की आवश्यकता होती है, और किस मोड को चुनना है, यह तय करते समय कार की उपयोगिता को भी ध्यान में रखा जाना चाहिए। हैचबैक सीखने वालों के लिए संभालना भी आसान है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here