Gorilla Glass – Dragontrail Glass क्या है और कैसे काम करता है

क्या आप जानते है की आपके फ़ोन की स्क्रीन पे कोनसा गिलास लगा हुवा है, और वो गिलास कितना सिक्योर है , अपने  गोरिल्ला गिलास और  Dragontrail  glass का  नाम  सुना  होगा , ये  गोरिल्ला  गिलास  क्या  है , आवर  Dragontrall glass क्या  हल , इसकी  पूरी  इनफार्मेशन  हम  आपको  इस  पोस्ट  में  बताने  वाले  है।

Gorilla Glass – Dragontrail Glass क्या है और कैसे काम करता है

आज कल हमे मोबाइल फ़ोन में स्क्रीन प्रोट्रक्शन के लिए गोरिल्ला गिलास आवर Dragontrail glass जैसे हार्ड गिलास  लगे होते है, जो काफी हद तक स्क्रैच रेसिस्टेंट है। इसको हम हार्ड स्क्रैच प्रूफ तो नहीं कह सकते लेकिन यह हमारी स्क्रीन  को काफी हद तक प्रोट्रैक्ट करता है, उस पर स्क्रैच न ही पड़ने देता है।

अब ये जान लीजिये की कोई भी स्क्रीन पर स्क्रैच तभी पड़ता है, जब उस स्क्रीन पर उससे ज्यादा हार्डनेस वाले ऑब्जेक्ट (बस्तु) को उस पर स्क्रैच किया जाये तब उस स्क्रीन पर स्क्रैच पड़ते है , अब हमे कोनसे ऑब्जेक्ट से स्क्रैच पड़ता है ये जानने के लिए हमे ये जानना होगा की उसकी हार्डनेस कितनी है , ये जानने के लिए हमे निचे दिए हुए चार्ट चार्ट को देखना होगा, Gorilla – dragontrail glass क्या है और कैसे काम करता

Mohs scale of hardness

Mohs Scale

ये चार्ट में आपको देखने को मिलेगा की हर एक मटेरियल को 1 नंबर दिया गया है, जो उसकी हार्डनेस को बताता है। 1 स्केल नंबर का मतलब है, सबसे कम हार्ड या सॉफ्ट आवर 10 स्केल नंबर का मतलब है, सबसे ज्यादा हार्ड।

अब देखिये की इस स्केल पे कोई भी मटेरियल है, जिसका स्केल नंबर 6 है तो उस मटेरियल पे सब 6 नंबर से कम नंबर वाले किसी भी मटेरियल से स्क्रैच करेंगे तो उस मटेरियल पे स्क्रैच नहीं पड़ेगा। लेकिन अगर आप उस पर कोई 6 नंबर से ज्यादा स्केल वाले किसी मटेरियल से स्क्रैच करेंगे तो उस पर स्क्रैच पड़ेगा।

एक्साम्प्ले के टूर पैर गोल्ड का स्केल नंबर है, 2.5 आवर स्टील का स्केल नंबर है 6.5, तो ऐसे में आप एक स्टील की नेल से गोल्ड पे स्क्रैच करेंगे तो उस पर स्क्रैच पड़ेगा। अगर आप एक स्टील की प्लेट पर गोल्ड से स्क्रैच करेंगे उस पर कोई स्क्रैच नहीं पड़ेगा। अब आप जान गए होंगे की किनसे मटेरियल से स्क्रैच पड़ता है और किनसे नहीं।

Gorilla Glass – Dragontrail Glass

Gorilla Glass क्या है:-

गोरिल्ला गलास एक हार्ड और स्पेशल गिलास की ब्रांड है, जिसे Corning company ने डेवेलोप और मैन्युफैक्चर्ड किया है। गोरिल्ला गलास में पोटैशियम साल्ट को 400°C के टेम्परेचर पे पिघला के स्माल सोडियम आयन को लार्ज पोटैशियम आयन से रेप्लस करके tough किया जाता है , इस से गिलास क्रैक रेसिस्टेंट बन जाता है।

Gorilla Glass - Dragontrail Glass क्या है (1)

गोरिल्ला गिलास के अब तक 6 version launch हो चुके है जिन्हे हम Gorilla glass 1, Gorilla glass 2, 3, 4,5,6 के नाम से जानते है , ये सब एडवांस version में केवल इतना डिफरेंस है की नई version में गिलास की थिकनेस कम करदी है जिससे गिलास ज्यादा फ्लेक्सिबल बन जाता है।

जबकि उसकी हार्डनेस में कोई ज्यादा डिफरेंस नही है। कोर्निंग गोरिल्ला गिलास का हार्डनेस स्केल नुम्बर 6.5 है , जिससे आप 6.5 स्केल नंबर से कम स्केल वाले किसी भी मटेरियल से उस पर स्क्रैच करेंगे जैसे के के , कॉइन , नाइफ , उस पर कोई स्क्रैच नही पड़ेगा।

Dragontrall Glass क्या  है:-

ये गिलास असहि गिलास कंपनी ने बनाया है, ये गिलास थिननेस्स, लाइटनेस और डैमेज रेसिस्टेंट का कॉम्बिनेशन हल, जो बिलकुल गोरिल्ला गिलास जैसा ही है, ये नाम केवल ब्रांडिंग है, जबकि काम पूरा गोरिल्ला गिलास जैसा ही है, और इसका हार्डनेस स्केल नंबर 6.5 है।

Gorilla Glass - Dragontrail Glass क्या है (2)

Gorilla our dragontrail glass में 6.5 स्केल से ज्यादा हार्डनेस वाले मटेरियल से स्क्रैच पड़ सकता है।

Gorilla – dragontrail glass क्या है और कैसे काम करता है,

नोट:- अगर  आपके  फ़ोन  में  Gorilla ya Oragontrail glass लगा  हुआ  है! तो  भी  आपको  स्क्रीन  प्रोटेक्टर  लगाना  बहुत  जरुरी है! क्यों  की  अगर  कभी  उससे  ज्यादा  हार्डनेस  वाला  कोई  भी  मटेरियल  उस  पर  स्क्रैच  कर  सकता  है ! स्क्रीन  प्रोटेक्टोर  के  लिए  आप  प्लास्टिक  वाला  स्क्रीन  गार्ड  या  टेम्पर्ड  गिलास  का  उपयोग  कर  सकते  है!

आपको यह लेख अच्छा लगा तो आप यह भी पड़ना पसंद करोगे=>

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here