Fire extinguisher kya hota hai or yeh Kaise kaam karta hai

Fire extinguisher kya hota hai or yeh Kaise kaam karta hai and types of fire। आज हम एक ऐसे Environment में रहते है जंहा आग लगने का खतरा हमेशा बना रहता है। हमारे चारो तरफ आग के लिए ईंधन प्रयाप्तमात्रा में हमेशा होता है, कपड़ा, लकड़ी, इलेक्ट्रिसिटी, फ्यूल, गैस, इत्यादि, हम जो भी चीजे प्रयोग करते है वह लगभग सभी चीजे Flammable होती है। fire extinguishers in hindi

अगर किसी कारण से आग लग जाती है तो नॉर्मली लोग उसे पानी से बुझाने की कोशिश करते है लेकिन आग बहुत ज्यादा लगी हो तो उसे बुझाना बहुत मुश्किल हो जाता है ओर पानी से सभी प्रकार की आग को नही बुझाया जा सकता।

आज के युग में हम आग बुझाने के लिए यूज़ करते है Fire Extinguisher Cylinder Ball का लेकिन आग बहुत से प्रकार(types of fire) की होती है इसलिए हमारे पास Fire Extinguisher सिलिंडर भी बहुत से प्रकार के होते है। आग को बुझाने से पहले हमे यह जान लेना चाहिए की यह आग किस क्लास में आती है और हमे इसके लिए कोन सा Fire Extinguisher यूज़ करना चाहिए।

आप इस आर्टिकल के माध्यम से जानने बाले है:- fire extinguishers in hindi

  1. Fire कितने प्रकार की होती है। (types of fire)
  2. कोनसी आग के लिए कोन से fire extinguisher cylinder यूज़ करना है।
  3. fire extinguisher cylinder में क्या होता है।
  4. फायर extinguisher cylinder कैसे पहचाने
  5. fire extinguisher cylinder को कैसे यूज़ करे
  6. फायर extinguisher Ball को कैसे यूज़ करे

Fire extinguisher kya hota hai or yeh Kaiser kaam karta hai, types of fire

1. आग कितने प्रकार की होती है (Types of fire):-

सभी Materials में लगी fire को किसी एक extinguisher से नहीं बुझाया जा सकता उसके लिए हमे अलग अलग प्रकार के extinguisher की जरुरत पड़ती है इसी लिए हमे fire को classify करना पड़ा ताकि हम यह जान सके की किस मटेरियल में fire लगी है वह किस class में आती है, तभी आप correct Fire Extinguisher सिलिंडर का प्रयोग करके आग को असानी से बुझा सकते हो।

The classes of fire

मुख्या रूप से Fire 6 प्रकार की होती है: Class A, Class B, Class C, Class D, Class E – Electrical, and Class F।

– Class A fires – दहनशील सामग्री: लकड़ी, पेपर, और कपडा इत्यादि के कारन लगी आग (Fire) को class A Fires में रखा जाता है।

–  B fires – ज्वलनशील तरल: पेट्रोल, turpentine और पेंट में लगी आग (Fire) Class B fires में आती है।

–  C fires – Flammable गैसें: हाइड्रोजन, butane और मीथेन जैसी गैसों के कारन लगी आग (Fire)।

–  D fires – दहनशील धातु: chemicals जैसे की magnesium, aluminum or potassium

– Class E fires – Electrical equipment: एक बार जब बिजली का सामान हटा दिया जाता है, तो आग (Fire) की class बदल जाती है। मान लो जैसे आपके घर में बिजली की तार या किसी बोर्ड में इलेक्ट्रिसिटी की बजह से आग लगती है तो उसे हम Class E fires में शामिल करेंगे लेकिन जैसे इलेक्ट्रिसिटी कट हो जाएगी और आग लगी रह जाती है तो फिर उसे किसी दूसरी fire class में identify किया जायेगा।

fire extinguishers in hindi
fire extinguishers in hindi

– Class F fires – FIRE F को हम fire K के नाम से भी जानते है। खाना पकाने का तेल और बसा इत्यादि में अगर आग (Fire) लगती है तो उसे हम Class F fires से identify करते है।

Read also:
Computer kya hota hai
Chandrayaan 3 ki jankari IN DETAIL
USB CONDOM KYA HOTA HAI

Fire Extinguisher के प्रकार – A Detailed Guide

Water extinguishers:-

Class A फायर रिस्क के लिए Water extinguishers सबसे आम extinguishers प्रकार है। अधिकांश परिसरों में या तो पानी या फोम extinguishers की आवश्यकता होगी। fire extinguishers in hindi

Label Color:
– Bright Red

Use for:
– Organic materials जैसे:
पेपर एंड कार्डबोर्ड
कपड़े और वस्त्र
लकड़ी और कोयला

इसके लिए उपयोग न करें:
– बिजली के उपकरणों को शामिल करने वाली आग
– रसोई में आग
– ज्वलनशील गैस और तरल पदार्थ

How water extinguishers work:

जब पानी ईंधन पर पड़ता है तो बाह ईंधन को डंडा करता है और आग और आग की लपटों के बिच में एक पानी की दिवार बना देता है जिससे आग धीरे धीरे करके बुझ जाती है।

परिसर / व्यवसाय के प्रकार जिन्हें Water extinguishers की आवश्यकता हो सकती है:

– लकड़ी या अन्य जैविक सामग्री से निर्मित इमारतें
– परिसर जहां कार्बनिक पदार्थ पाए जाते हैं जैसे:
कार्यालयों
स्कूल
अस्पताल
घर, माकन इतियादी
गोदामों

वास्तव में अधिकांश इमारतों को या तो पानी या फोम एक्सटिंग्विशर की आवश्यकता होती है।

water extinguishers कहाँ रखना चाहिए:
– किसी भी मंजिल के एग्जिट या एंट्री पॉइंट पर जंहा से क्लास ए fire का पता चल सके।

Water spray extinguishers and Water jet spray extinguishers– what’s the difference?

आपको Water spray extinguishers की नोज़ल इस प्रकार की होतो है जब वंहा से पानी निकलता है तो वह पानी को फैलता है यानी आप ज्यादा एरिया में लगी आग को बुझा सकते हो। लेकिन jet spray पानी को फैलता नहीं है बल्कि ये पानी को एक धार के रूप में छोड़ता है यह हम तब यूज़ कर सकते है जब आग हमारी पहुँच से थोड़ी दूर लगी हो या हम आग के ज्यादा नजदीक न जा पाए तो।

what is Water mist extinguishers ?:

वाटर मिस्ट एक्सटिंगुइशर में एक अलग प्रकार का नोजल होता है जो सूक्ष्म जल कणों को छोड़ता है। मनो ये कण आग को चारो और से घेर लेते है और आग बुझ जाती है । जब हम इसे यूज़ करते है तो यह हमारे और आग के बिच में सूक्ष्म जल कणों की एक दिवार बन जाती है जिससे हमे गर्मी भी काम महसूस होती है।

BUY Now:


Foam Extinguishers

फोम एक्सटिंगुइशर Class B की आग के लिए सबसे सामान्य प्रकार के Extinguishers हैं, लेकिन Class A की आग पर भी काम करते हैं क्योंकि Foam Extinguishers भी पानी युक्त होता है। Fire extinguisher kya hota hai

Label Colour:
– Cream

Use for:
– Organic materials जैसे:
पेपर एंड कार्डबोर्ड
कपड़े और वस्त्र
लकड़ी और कोयला
Plus:
– ज्वलनशील तरल पदार्थ, जैसे पेंट और पेट्रोल।

इसके लिए उपयोग न करें:
– रसोई में आग
– बिजली के उपकरणों को शामिल करने वाली आग
– ज्वलनशील धातु

Foam extinguishers कैसे काम करते हैं:

यह water extinguishers की तरह काम करता है, Foam extinguishers में पानी की मात्रा होने से यह आग को डंडा करता है और foam ईंधन और आग की लपटों के बिच में दिवार का काम करता है जिससे आग आसानी से बुझ जाती है।

परिसर / व्यवसाय के प्रकार जिन्हें फोम एक्सटिंग्यूशर की आवश्यकता हो सकती है:

– लकड़ी या अन्य जैविक सामग्री से निर्मित इमारतें
– परिसर जहां कार्बनिक पदार्थ पाए जाते हैं जैसे:
कार्यालयों
स्कूल
अस्पताल
आवासीय गुण
गोदामों
– इमारतें जहां ज्वलनशील तरल पदार्थ जमा होते हैं
वास्तव में अधिकांश इमारतों को या तो पानी या फोम एक्सटिंग्विशर की आवश्यकता होती है

Where to locate foam extinguishers:
– किसी भी मंजिल के एग्जिट या एंट्री पॉइंट पर जंहा से Class A या Class B fire रिस्क का पता चल सके।


Dry Powder Extinguishers

Standard dry powder extinguishers को “ABC” extinguishers भी कह जाता है क्यूंकि यह Class A, B,C तीनो टाइप की आग को आसानी से बुझा लेता है। लेकिन इसका प्रयोग किसी बंद जगह पर नहीं करना चाहिए क्यूंकि इससे निकलने बाला dry powder आँख, नाक, मुँह में जा सकता है। ABC powder extinguishers का उपयोग कुछ बिजली के तारों पर भी किया जा सकता है। ज्वलनशील धातुओं के लिए Specialist dry powder extinguishers का उपयोग किया जाता है। Fire extinguisher kya hota hai

Label Colour:
– Blue

Use for:
– जैविक सामग्री जैसे:
कागज और कार्डबोर्ड
कपड़े और वस्त्र
लकड़ी और कोयला

प्लस:
– ज्वलनशील तरल पदार्थ, जैसे पेंट और पेट्रोल
प्लस:
– ज्वलनशील गैसों, जैसे तरल पेट्रोलियम गैस (एलपीजी) और एसिटिलीन
प्लस:
– 1000v तक के बिजली के उपकरण शामिल हैं

Specialist dry powder extinguishers केवल ज्वलनशील धातुओं, जैसे टाइटेनियम और मैग्नीशियम पर उपयोग किया जाता है।

इसके लिए उपयोग न करें:
– खाना पकाने का तेल शामिल आग
– 1000v से अधिक बिजली के उपकरण शामिल हैं
– या कार्यालय या आवासीय संपत्तियों जैसे संलग्न स्थानों में

How dry powder extinguishers work:

Dry powder extinguishers ईंधन और ऑक्सीजन के स्रोत के बीच एक अवरोधक बनता है जिससे आग को oxygen न मिलने से आग आसानी से बुझ जाती है।

परिसर / व्यवसाय के प्रकार जिन्हें ड्राई पाउडर बुझाने की आवश्यकता हो सकती है:
– रासायनिक प्रक्रियाओं के लिए ज्वलनशील गैसों का उपयोग करने वाले व्यवसाय
– परिसर जहां वेल्डिंग और फ्लेम कटिंग होती है
– गैराज फोरकोर्ट्स
– तरल पेट्रोलियम गैस (एलपीजी) dispensing plants (पौधों)
– Premises with large, commercial boiler rooms

Dry powder extinguishers को कहां लगाएं:

– जांहा पे आग लगने का खतरा ज्यादा हो बांह dry powder extinguishers को रखे।

What is Specialist Dry Powder extinguishers

स्पेशलिस्ट ड्राई पाउडर एक्सटिंगुइशर उसी तरह से काम करते हैं जैसे कि स्टैंडर्ड ड्राई पाउडर एक्सटिंगुइशर होते हैं लेकिन ये केवल ज्वलनशील धातुओं के उपयोग के लिए होते हैं। 2 प्रकार के विशेषज्ञ ड्राई पाउडर एक्सटिंग्यूशर हैं – ‘L2 ‘जो अन्य सभी ज्वलनशील धातु की आग के लिए केवल लिथियम अग्नि और’ M28’ से निपटते हैं।


Carbon Dioxide (CO2) Extinguishers

(fire extinguishers in hindi)

CO2 extinguishers बिशेष कर यूज़ होते है electrical fire risks के लिए जिसके लिए इन्हे computer server रूम्स में रखा जाता है। इसको Class B fires के लिए भी यूज़ किया जा सकता है (flammable liquids, such as paint and petroleum)। fire extinguishers in hindi

Label Colour:
– Black

Use for:
– Flammable liquids, like paint and petrol
– Electrical fires

इसके लिए उपयोग न करें:
– रसोई की आग – विशेष रूप से चिप-पैन आग
– कागज, लकड़ी या कपड़ा जैसी दहनशील सामग्री
– ज्वलनशील धातु

कैसे Carbon Dioxide (CO2) Extinguishers काम करते हैं:

Carbon Dioxide (CO2) Extinguishers आग को जलाने के लिए आवश्यक ऑक्सीजन को displacing करके आग को बुझाते हैं।

परिसर / व्यवसाय के प्रकार जिन्हें सीओ 2 बुझाने की आवश्यकता हो सकती है:
– बिजली के उपकरणों के साथ परिसर, जैसे:
कार्यालयों
रसोई
निर्माण स्थल
सर्वर रूम

Note: सभी काम करने वाले वाहनों को एक छोटे से 2 किलो CO2 बुझाने वाला उपकरण भी रखना चाहिए।

Carbon Dioxide (CO2) Extinguishers को कहां रखना चाहिए:
– अग्नि जोखिम के स्रोत के पास और / या अग्नि निकास के पास रखें।


Wet Chemical Extinguishers (fire extinguishers in hindi)

Wet Chemical Extinguishers खाना पकाने के तेल और वसा में लगी लगी आग को बुझाने के लिए designed किया गया है। इसका उपयोग Class A की आग पर भी किया जा सकता है, लेकिन class A ये के लिए फोम या पानी का Extinguishers ही बेहतरीन काम करता है। Fire extinguisher kya hota hai

Label Colour:
– Yellow

के लिए उपयोग:
– खाना पकाने का तेल / वसा की आग
– जैविक सामग्री जैसे:
कागज और कार्डबोर्ड
कपड़े और वस्त्र
लकड़ी और कोयला

इसके लिए उपयोग न करें:
– ज्वलनशील तरल या गैस आग
– बिजली की आग
– ज्वलनशील धातु

Wet Chemical Extinguishers काम कैसे करते हैं:

Wet Chemical Extinguishers जलते हुए तेल या वसा की सतह पर फोम की एक परत बनाते हैं, जिससे ऑक्सीजन को आग से बचाने में मदद मिलती है। स्प्रे का शीतलन प्रभाव भी होता है जिसके कारन आग आसानी से बुझ जाती है।

परिसर / व्यवसाय के प्रकार जिन्हें गीले रासायनिक बुझाने वाले की आवश्यकता हो सकती है:
– वाणिज्यिक रसोई
– कैंटीन

Wet Chemical Extinguishers को कहां रखे :
– आग के स्रोत के पास रखें


Fire Extinguisher Cylinder को कैसे यूज़ करे:-

फायर Extinguisher सिलिंडर को यूज़ करना बहुत मुश्किल नहीं है लेकिन बहुत से लोग इसे यूज़ करने से घवरा जाते है। आग को बुझाते समय आपको बिलकुल भी घराना चाहिए और Fire Extinguisher Cylinder को पुरे कॉन्फिडेंस के साथ हैंडल से पकड़िए और सिलिंडर के नोज़लके पीछे एक पिन या फिर टाई लगी होगी यूज़ निकले और जो ध्वनि बाला हैंड ग्रीप होता है उसमे से सेफ्टी lock ग्रीप को निकल दे- यह महज १ मिनट्स का काम है जब आप दोनों चीजे निकाल लोगे तो आप सिलिंडर के हैंड ग्रीप को प्रेस करेगा तो सिलिंडर में से प्रेशर के साथ फायर Fire Extinguisher मटेरियल बहार निकलेगा जिससे आग आसानी से बुझ जाएगी।

नोट: Fire Extinguisher Cylinder को यूज़ करने से पहले ध्यान देने योग्य बाते:
1. बिलकुल भी घवरायें नहीं
2. अगर आपके पास fire safety gear है तो पहन लें
3. सिलिंडर को चेक कर ले प्रेशर इत्यादि
4. नोज़ल पिन या टाई और सेफ्टी लॉक ग्रीप को हटा लें
5. fire से नियमित दुरी बने रखे
6. जब सिलिंडर में से Fire Extinguisher material बहार निकलता है तो आपको पीछे की तरफ एक धका महसूस हो सकता है जैसे बन्दूक चलते समय लगता है, उसके लिए त्यार रहे अन्यथा आप गिर सकते है।


Fire extinguisher Ball को कैसे यूज़ करे: 

किसी बड़ी गेंद के समान होता है जिसके अंदर एक्सटीन्गुइशेर मटेरियल होता है, पाउडर, ड्राई पॉवडर, वेट केमिकल, जैसे किसी सिलिंडर के अंदर। सुरक्षा के लिहाज से देखा जाये तो यह एक बेहतरीन बिकल्प होता है। इसे यूज़ करना बहुत सी आसान है बस आपको Fire Extinguisher ball को आग में फेंकना है और वह बॉल आग में किसी पटाखे की तरह फटता है और बॉल के अन्दर जो पाउडर होता है वह आग के ऊपर फैल जाता है और आग बुझ जाती है। (fire extinguishers in hindi)

Fire Extinguisher ball का ऐसी जगह पर यूज़ नहीं करना चाहिए जंहा पे कांच या ऐसी बस्तु हो जो असानी से टूट जाये। क्यूंकि Fire Extinguisher ball आग के संपर्क में आते ही पटाखे की तरह फट जाता है, ऐसे में आपके समान का नुक्सान या इसके कारन आपको भी चोट लग सकती है।

आपको यह बाल बांह पे रखनी चाहिए जंहा आग लगने का खतरा सबसे अधिक हो ताकि आग लगने पर वह खुदवाखुद ब्लास्ट होकर आग को बुझा सके।

fire extinguishers pdf download

“fire extinguishers pdf”

BUY NOW: https://amzn.to/2JSdgo8

उम्मीद आप सभी को मेरे द्वारा दी गयी fire extinguishers in hindi महत्ब पूरण जानकारी अच्छी लगी हो अगर कोई सवाल या सुझाव है तो प्लीज कमेंट करके जरूर बताये। धन्यबाद।।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here